Advanced Search
Welcome to Anuvada Sampada Repository

कला और पारिस्थितिकी

कृष्णगोपाल, अभिषेका (2007) कला और पारिस्थितिकी आई वंडर रीडिस्‍कवरिंग स्‍कूल साइंस (3). pp. 65-70.

[img] Fulltext Document (From Issue - Listening to blackholes)
कला और पारिस्थितिकी.pdf
Available under License Creative Commons Attribution Non-commercial Share Alike.

Download (533kB)

Introduction

विद्यार्थियों को प्रकृति के महत्त्व के बारे में समझाने के लिए कला एक सशक्त माध्यम है, क्योंकि यह उनको सोचने और अनुभव करने के लिए प्रेरित करती है। यह लेख कला आधारित कुछ सरल गतिविधियों में ऐसी सम्भावनाएँ तलाशता है जिनके उपयोग से बच्चों को उनकी स्थानीय पारिस्थितिकी और पर्यावरण के प्रति संवेदनशील बनाया जा सके। लेख में सुझाया गया है कि प्रकृति से जुड़ाव की समझ और प्रकृति के प्रति जागरूकता विकसित करने के लिए चित्रकला, पेंटिंग और प्रस्तुतीकरण कला सभी का इस्तेमाल किया जा सकता है।

Item Type: Article
Discipline: Science Education
Programme: University Publications > i wonder...
Title(English): Art and Ecology
Creators(English): Abhishek Krishnagopal
Publisher: Azim Premji University
Journal or Publication Title(English): i wonder Rediscovering School Science
Contributors: Translator: Bholeshavar Dube; Reviewer: Rajesh Utsahi; Copy Editor: Kawita Tiwari
Related URLs:
URI: http://anuvadasampada.azimpremjiuniversity.edu.in/id/eprint/3544
.
Edit Item Edit Item

Disclaimer

Translated from English to Hindi/Kannada by Translations Initiative, Azim Premji University. This academic resource is intended for non-commercial/academic/educational purposes only.

अनुवाद पहल, अज़ीम प्रेमजी विश्वविद्यालय द्वारा अँग्रेज़ी से हिन्दी में अनूदित। इस अकादमिक संसाधन का उपयोग केवल ग़ैर-व्यावसायिक, अकादमिक एवं शैक्षिक उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है।

ಅಜೀಂ ಪ್ರೇಮ್‍ಜಿ ವಿಶ್ವವಿದ್ಯಾಲಯದ ಅನುವಾದ ಉಪಕ್ರಮದ ವತಿಯಿಂದ ಇದನ್ನು ಇಂಗ್ಲೀಷ್‍ನಿಂದ ಕನ್ನಡಕ್ಕೆ ಅನುವಾದಿಸಲಾಗಿದೆ. ಈ ಶೈಕ್ಷಣಿಕ ಸಂಪನ್ಮೂಲವನ್ನು ವಾಣಿಜ್ಯೇತರ, ಶೈಕ್ಷಣಿಕ ಉದ್ದೇಶಗಳಿಗೆ ಬಳಸಬಹುದಾಗಿದೆ.