Advanced Search
Welcome to Anuvada Sampada Repository

Items where Subject is "Social Sciences"

Up a level
Export as [feed] Atom [feed] RSS 1.0 [feed] RSS 2.0
Group by: Creators | Item Type
Jump to: | | | | | | | | | | | | | | | | | | |
Number of items at this level: 44.

अली, मुख़्त्यार (2001) आतंकवाद से ग्रस्त मानवता मूल प्रश्‍न. pp. 40-42.

आचार्य, नन्दकिशोर (2016) कबीर और देशज आधुनिकता प्रतिमान (7). pp. 43-48.

एंगेल्स, फ्ऱेडरिक (1978) परिवार, निजी सम्पत्ति और राज्य की उत्पत्ति : एक अंश डिबेट ऑनलाइन, 3 (2).

खेतान, प्रभा (2004) नारीवाद के बिना सामाजिक विमर्श की सार्थकता मूल प्रश्‍न. pp. 15-26.

गालिआनो, एदुआर्दो (2009) रंगभेद और पुरुष वर्चस्व का पहला सबक़ डिबेट ऑनलाइन (1).

गालिआनो, एदुआर्दो (2012) लिखना मौत से लड़ना जैसा है डिबेट ऑनलाइन (1).

गालेआनो, एदुआर्दो (2013) पुरुष वर्चस्व का पहला सबक़ डिबेट ऑनलाइन (1).

गुरु, गोपाल (2013) अनुभव, स्थान और न्याय प्रतिमान, 1 (2). pp. 531-556.

ग्राम्शी, अन्तोनियो (2013) बुद्धिजीवियों का निर्माण डिबेट ऑनलाइन (1).

ग्रीयर, जर्मेन (2006) बलात्कार डिबेट ऑनलाइन (1).

चतुर्वेदी, अरुण (2001) आतंकवाद को समझने के क्रम में मूल प्रश्‍न. pp. 14-17.

चतुर्वेदी, अरुण (1997) अभिनव पंचायती राज व्यवस्था : वैचारिक आधार (राजस्थान : एक विश्लेषण) मूल प्रश्‍न. pp. 26-33.

चमड़िया, अनिल (2001) राजनीति में भाषा का खेल मूल प्रश्‍न. pp. 18-20.

चौधरी, सौम्यव्रत (2014) राजनीति के क़ाबिल कौन है? : आम्बेडकर बरक्स अरस्तू प्रतिमान, 2 (1). pp. 259-278.

जैन, प्रकाशचन्द्र (2001) विकास व्यवस्था के शिकार आदिवासी : संरक्षात्मक भेदभाव का मसला मूल प्रश्‍न. pp. 49-52.

देशपाण्डे, राजेश्‍वरी (2014) क्या चाहती हैं वोटर औरतें? प्रतिमान, 2 (1). pp. 173-182.

देशपाण्डे, सतीश (2014) चुनाव और हमारा विवेक प्रतिमान, 2 (1). pp. 47-60.

निगम, आदित्य (2014) जनतंत्र और जनवाद के बीच : कुछ सैद्धांतिक सवाल प्रतिमान, 2 (1). 01-22.

पटेल, किंग्सन (2012) नारीवाद के मायने डिबेट ऑनलाइन (1).

बानू, ज़ेनब (2005) मुस्लिम समाज जेण्डर एवं राज्य मूल प्रश्‍न. pp. 42-46.

भार्गव, नरेश (2005) त्यागे गए लोगों पर लेखन: अरण्य में नई आवाज़ें मूल प्रश्‍न. pp. 53-55.

भार्गव, नरेश (2001) आतंकवाद : नर्म राष्ट्र की गर्म हवा मूल प्रश्‍न. pp. 9-13.

मिल, जॉन स्टुअर्ट (1921) ऑन लिबर्टी (अन्तिम अध्याय) डिबेट ऑनलाइन (1).

मेनन, निवेदिता and वर्मा, अर्चना and बुटालिया, उर्वशी and नक़वी, फ़राह and घई, अनीता and तिलक, रजनी (2017) नारीवाद की भारतीयता : आयाम अस्मिता और अन्तरंगता प्रतिमान, 9 (1). pp. 91-123.

यादव, अनुपमा (2005) धर्मनिरपेक्षता-पुनर्विचार मूल प्रश्‍न. pp. 47-49.

यादव, चन्द्रजीत (2001) सामाजिक न्याय - पिछड़े वर्गों की भूमिका मूल प्रश्‍न. pp. 6-10.

यादव, राजेन्द्र (2005) बेज़ुबानी ज़ुबान हो जाए… मूल प्रश्‍न. pp. 4-11.

यादव, राजेन्द्र (2004) स्त्री, दलित और अल्पसंख्यकों से इतनी दूर क्यों है वामपंथ? मूल प्रश्‍न. pp. 41-55.

राय, विभूति नारायण (2005) वर्णाश्रमी असभ्यता मूल प्रश्‍न. pp. 37-41.

रॉय, अरुन्धति (2004) शान्ति और कारपोरेट मुक्ति का नया धर्मशास्त्र मूल प्रश्‍न. pp. 6-14.

रॉय, अरुन्धती (2005) कितना गहरा और खोदें मूल प्रश्‍न. pp. 12-21.

रॉय, अरुन्धती (2012) पूँजीवाद एक प्रेतकथा डिबेट ऑनलाइन (1).

लोढ़ा, संजय (2001) आतंकवाद : अर्थ और विकल्प मूल प्रश्‍न. pp. 5-8.

वर्मा, एस. एल. (2001) क्या हो आतंकवाद का स्थाई  समाधान? मूल प्रश्‍न. pp. 21-23.

शर्मा, अम्बिकादत्त (2014) हिन्द स्वराज्य' और 'कम्युनिस्ट घोषणापत्र' : मार्क्स, गाँधी और हाइडैगर के आईने में एक पुनर्पाठ प्रतिमान, 2 (1). pp. 223-238.

शेठ, धीरूभाई (2014) आधुनिकता और लोकतंत्र की द्वंद्वात्मकता प्रतिमान, 2 (1). pp. 23-36.

सईद, एडवर्ड (2012) निर्वासन चिन्तन डिबेट ऑनलाइन (1).

सिंह, धनंजय (2014) प्रवासी मज़दूर : बिदेसिया लोक-संस्कृति प्रतिमान, 2 (1). pp. 279-311.

सिंह, भगत (1931) सुखदेव को भगत सिंह का पत्र डिबेट ऑनलाइन (1).

सुधीर, वेददान (2001) आतंकवाद : विश्लेषण के बिन्दु मूल प्रश्‍न. pp. 2-4.

सोनटैग, सूसन लिखने और पढ़ने का सम्बन्ध डिबेट ऑनलाइन (1).

सोहोनी, रवीन्द्र कुमार (2001) सामाजिक न्याय के सन्दर्भ में आचार्य विनोबा भावे के विचार मूल प्रश्‍न. pp. 31-33.

हरिश्चन्द्र, भारतेन्दु (1984) भारतवर्षोन्नति कैसे हो सकती है डिबेट ऑनलाइन (1).

हैनिच, कैरोल (1968) पर्सनल इज़ पॉलिटिकल डिबेट ऑनलाइन (1).

This list was generated on Sat May 25 03:01:29 2024 UTC.